तान्त्रिक सम्प्रदायों का मार्मिक साम्य

तान्त्रिक -संस्कृति में मूलतः साम्य रहने पर भी देश -काल और क्षेत्र -भेद से उसमें विभिन्न सम्प्रदायों का आविर्भाव हुआ

पूरा पढें