गायत्री और ब्रह्म की एकता

गायत्री और ब्रह्म की एकता

गायत्री कोई स्वतंत्र देवी- देवता नहीं है ।। यह तो परब्रह्म परमात्मा का क्रिया भाग है ।। ब्रह्म निर्विकार है,

पूरा पढें